प्रवेश इतिहास मंदिर पथप्रदर्शक परियोजना गुजरात भ्रमण




 
" ॐ " - आनिमेसन देखने के लिए यहॉ क्लिक करें

हमे लिखें जैन धर्म संसार का सबसे प्राचीन - शायद विश्व का एकमात्र निराशंस-निरपेक्ष, निस्पृह धर्म है। जैन धर्म के अनुसार मानव आत्मा की कमजोरीयाँ जैसे गर्व, घृणा, भय, काम तथा सम्मोह आदि से उपर उठते हुए दिव्यत्व को प्राप्त करने पर विश्वास रखता है। जैन धर्म में तीर्थंकरो, सिद्धो एवं गुरूजनो की पुजा अनंत काल से होती रही है और भक्तगणो ने सर्वोत्तम कला व वास्तुकला से इनकी शोभा बढाई है।
 फोटो गेलरी गिरनार ढंकगिरी जैन धर्म परीयोजना लागत श्री सिद्धचक्र यंत्र